चमेली की शादी

चैनल: कल तक
कार्यक्रम: उलटी बात
मेहमान: चमेली (प्रसिद्ध कब्बडी खिलाडी)
होस्ट: भगवान चावला
जगह: कल तक का स्टूडियो

एंकर: आप सबने सुना ही होगा की प्रसिद्ध खिलाडी चमेली अब छछूँदर से शादी करने वाली है. सारे देश में उनकी शादी चर्चा का विषय बना हुआ है. आखिर क्या कारण है की चमेली इंसानों को छोड़ कर छछून्दर से शादी कर रही है, आइये जानते है चमेली की कहानी, चमेली की जुबानी हमारे कार्यक्रम उलटी बात में, भगवान चावला के साथ.

(कैमरा भगवान चावला की तरफ)

भगवान चावला (अपनी चिर परिचित मुस्कराहट के साथ): नमस्कार, उलटी बात में आपका स्वागत है| आज हमारे साथ है हमारे देश के मशहूर कब्बडी खिलाडी चमेली| चमेली जी, आपका कार्यक्रम में बहुत स्वागत है.

जी हां, ये वही चमेली है एक ही दौड़ में हु तू तु करते हुए सामने वाली टीम की लगा देती थी. ये अलग बात है की पिछले एक साल से कोई वो कोई मैच जीती नहीं है पर उसकी खूबसूरती और स्टाइल के कारण चर्चा में हमेशा रही है.

चमेली जी खबर है की आप छछूँदर से शादी करने जा रही है. क्या ये सच है?

चमेली: चावला जी, मैंने तो ट्विटर पर भी लिखा था की हां मै छछूँदर से शादी कर रही हू. आप ने नहीं देखा क्या?

भगवान चावला: जी मैंने देखा था पर बात शुरू करने को आपसे पूछ लिया. आपकी शादी को लेकर देश भर में बड़ी चर्चा हो रही है| लोग आपके निर्णय को गलत बता रहे है|

चमेली: जब छछूँदर चमेली राजी तो क्यों बने है सब काज़ी? ये मेरी जिंदगी है और मै अपने फैसले लेने को स्वतंत्र हू| आप मीडिया वाले ही लोगो को फालतू के मुद्दे देते है| क्या देश में और समस्याए खत्म हो गयी है जो आप लोग मेरी शादी के पीछे पड़ गए|

भगवान चावला: देखिये चमेली जी आप एक सेलेब्रिटी है और लोग आपसे प्रेरणा लेते है. आपको देश का गौरव समझते है. खैर, आप पिछले एक साल से खेल में भी कोई कमाल नहीं दिखा रही, स्पोर्ट्स पेज की जगह पेज ३ पर ज्यादा नज़र आ रही है. इसकी क्या वजह है?

चमेली: Page 3 is not a sports page??? Oh my god!!! I never knew. मै खेल तो रही हू, ये आपके संपादकों की गलती है वो मेरे बारे में पेज ३ पर ज्यादा छापते है.

भगवान चावला: छछूँदरों से इंसानों की हमेशा दुश्मनी रही है. अभी कुछ दिनों पहले कुछ छछूँदरों ने मुंबई में हमारे एक होटल में घुसकर उसकी नीव खोखली कर दी थी जिसकी वजह से होटल गिर गया. अब ऐसे में एक छछूँदर से आपकी शादी से इंसानों को धक्का लगना स्वाभाविक है. आपकी शादी के बाद तो इंसान की जगह छछूँदर हो जाएँगी. इस बारे में आपका क्या कहना है.

चमेली: देखिये प्यार इंसान और छछूँदर नहीं देखता. आपने सुना नहीं वो गाना “प्यार किया नहीं जाता हो जाता है.” मेरी इस शादी से इंसान और छछूँदरों के बीच की दुश्मनी खत्म होगी| मैं वह जाकर अमन का पैगाम दूंगी. रही बात खेलने की तो मै इंसानों की तरफ से ही खेलूंगी.

भगवान चावला: जिस दुश्मनी को कई बड़े बड़े नहीं सुलझा सके क्या आपकी शादी उसे सुलझा देगी? वैसे भी छछूँदरों ने तो हमेशा इंसानों की पीठ में छुरा ही घोंपा है. वैसे भी सुनने में आया है की आप अपनी सुरक्षा के कारण शादी के बाद दुबई में रहेंगी. फिर आप अमन का पैगाम कैसे देंगी?

चमेली: So Simple. मै छछूँदरों को फेसबुक और ट्विटर पर शांति रखने को कहूँगी. और जहाँ तक बात पीठ में छुरा घोपने की है तो इसमें गलती तो इंसानों की है. जब भी बिचारे छछूँदर हमारे देश में कही घुमते दिखते है तो आप उन्हें पकड़ के बायोलोजी के स्टुडेंट्स को दे देते है और उन्हें काट कर अपने सारे एक्सपेरिमेंट छछूँदरों पर करते है.

भगवान चावला: चमेली जी, मै आपको बता दू की एक्सपेरिमेंट छछूँदरों पर नहीं चूहों पर होते है. छछूँदरों की इतनी औकात नहीं की इंसान उन्हें छुए भी. आपने कहा की आप फेसबुक और ट्विटर पर उन्हें शांति रखने का पैगाम देंगी लेकिन छछूँदरों ने तो ट्विटर पर भी इंसानों के खिलाफ उल्टा-पुल्टा बोलना शुरू कर दिया है. आपकी ही एक पोस्ट में किसी छछूँदर ने लिखा है की इंसानों में दम नहीं, इसलिए ही चमेली ने छछूंदर को चुना है|

चमेली: इस सबके लिए भी तो इंसानों ने ही उन्हें उकसाया है. आप उनका बड़प्पन देखिये छछूँदरों ने मुझे चमेली भाभी कहना भी शुरू कर दिया है|

भगवान चावला: अभी एक और लड़की ने दावा किया है की छछूँदर ने उससे भी शादी की थी.

चमेली: वो मोटी झूठी है. मुझे और कुछ नहीं कहना. वैसे भी वो छछूँदर उन्हें महाआपा कहता है.

भगवान चावला: अच्छा ये बताइए की आपने अपने पहले मंगेतर चरणदास को क्यों छोड़ा?

चमेली: चरणदास अच्छा लड़का था, पर था ओल्ड फैशन| वो अपने नाम की तरह मेरे चरणों में ही देखता रहता था. जबकि देखने को इतना कुछ है मेरे पास.

भगवान चावला: अब आखिरी सवाल. चमेली जी अगर इंसानों से शादी नहीं ही करनी थी तो आपने छछूँदर ही क्यों चुना? और भी तो जानवर थे, जैसे कुत्ता, शेर, अजगर, और कुछ नहीं तो गधा ही सही?

चमेली: देखिये मेरी जोड़ी तो छछूँदर के साथ जन्मो से बनी हुई है. आपने कभी सुना है शेर के या गधे के सर में चमेली का तेल? बस मैंने सोच लिया की मेरी जोड़ी तो छछूँदर के साथ ही बनेगी. जब हम साथ चलेंगे तो सब कहेंगे वो देखो छछूँदर के सर में चमेली का तेल.

भगवान चावला: आपको आपके जवाब शायद मिल गए होंगे. जाते जाते आपको बता दे की छछूँदर की उनकी तथाकथित महाआपा की शिकायत पर उनके बिल में वापस जाने के रास्ते बंद कर दिए गए है. धन्यवाद.

चमेली की शादी

Post navigation


5 thoughts on “चमेली की शादी

  1. hmmm i must appreciate……..
    itzzz dammm gud…full on entertainin lol…chuchunder wid chameli ka tail on head keep goin…..hehehhehehehhe hattz offf

  2. नवीन व्यंग्य उम्दा है. कोई विकृति नहीं, कोई ओछापन नहीं है. क्या पंच है इस लाइन में: “….चरणदास अच्छा लड़का था, पर था ओल्ड फैशन, वो अपने नाम की तरह मेरे चरणों में ही देखता रहता था. जबकि देखने को इतना कुछ है मेरे पास…”! और इसमें तो और भी उम्दा पंच है: “….आपने कभी सुना है शेर या गधे के सर par चमेली का तेल? बस मैंने सोच लिया की मेरी जोड़ी तो छछूँदर के साथ ही बनेगी. जब हम साथ चलेंगे तो सब कहेंगे वो देखो छछूँदर के सर में चमेली का तेल…..”!

    मेरा सुझाव है, इसी तरह दायरा बढाओ और सभी सेगमेंट पर भी व्यंग्य कसो. और हाँ, कोशिश करो कि तुम GEC चैनलों को [लाफ्टर शो वाले] कुछ अपने इस तरह के स्क्रिप्ट भेजना जारी रखो. लगे रहो..!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *