Fan Movie Review

 

Fan movie review

कुछ दिनों पहले राखी सावंत Ceiling Fan को ban करने की मांग कर रही थी. अगर उन्होंने शाहरुख़ खान की fan movie देख ली होती तो बता रहा हूँ जनाब कि वो fan के खिलाफ मोर्चा ही निकाल देती.

फिल्म की स्टोरी तो आपने पढ़ ही ली होगी अब तक रिव्युज में कि एक fan सुपरस्टार के लिए मुसीबतें खड़ी करता है और स्टार उससे लड़ता है. तो अपन उस डिटेल में नहीं जाते, अपन सीधे मुद्दे पे आते हैं.

ये फिल्म इसलिए नहीं बनाई है कि director आपको एक fan की कहानी दिखाना चाहते हैं बल्कि इसलिए बनाई है ताकि शाहरुख़ खान अपनी पिछली controversial हरकतों को सही साबित कर सके और उस पर सफाई दे सकें. Yes boss, you are reading it right. Fan movie is justification of Shahrukh Khan’s attitude and controversial acts.

शाहरुख़ खान फिल्म में एक दूसरे स्टार को चांटा मारते हैं बिलकुल वैसे ही जैसे रियल लाइफ में शिरीष कुंदर को मारा था और उस पर controversy होती है. शाहरुख़ फिल्म में अपनी बीवी से बात करते टाइम बताते हैं कि मेरी ही वाइन पी के मेरी ही वाइफ से फ़्लर्ट करेगा तो पिटेगा.

शाहरुख़ ये भी बताते हैं कि वो सुपरस्टार हैं और अपनी मेहनत से आगे आये हैं (जोकि सच है) इसलिए वो attitude तो रखेंगे, जिसको जो सोचना है सोचे. इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ बोलने वालों पर भी अपने fan गौरव चानना के जरिये अटैक करते हैं और कहते हैं कि मैं वो fan नहीं जो फेसबुक पर गाली दे और फिर फोटो खिचवाने भी आये.

शाहरुख़ खान का डबल रोल है – एक जिसमें वो सुपरस्टार हैं और दूसरा वो अपने fan गौरव चानना भी बने हैं और फिल्म की एकमात्र जो अच्छी चीज यही है. गौरव चानना वाला करैक्टर काफी अच्छा किया है और इंटरवल से पहले तक movie ठीक ठीक है क्योंकि आप fan को देख रहे होते हैं पर इंटरवल के बाद जब से सुपरस्टार आर्यन खन्ना (शाहरुख़) की फुल एंट्री होती है स्टोरी भयंकर झिलाऊ हो जाती है. वो दूसरे के करैक्टर अच्छे करते हैं पर यहाँ खुद के करैक्टर में अपने को स्टार और आखिरी में अच्छा आदमी दोनों दिखाने के फेर में फंस गए हैं.

अख़बारों और न्यूज़ वेबसाइटो ने फिल्म को 3 स्टार दिए हैं हालाँकि टेबलायड ऑफ़ इंडिया में फिल्म को 4 स्टार देख कर मैं समझ गया था कि मामला गड़बड़ है. TOI के रिव्यु में से मैं हमेशा 2 स्टार कम कर देता हूँ और वही सही निकलता है.

एक पत्रकार ने लिखा है कि ये फिल्म शाहरुख़ के fans के लिए है और मैं थोड़ा से इसे ठीक कर दूँ कि ये उन fans के लिए है जिन्होंने ceiling पर, दीवार पर, बाथरूम में हर जगह शाहरुख़ का पोस्टर चिपका रखा हो. बाकि लोग जो राज के, मोहन भार्गव के या कबीर खान के fan है उन्हें बता दूँ कि सिर्फ गौरव चानना को देखने के लिए 2.5 घंटे की फिल्म बहुत झिलाऊ हो जाती है खासकर जब इंटरवल के बाद सब कुछ predictable होता है.

इन सब पत्रकारों के review के धोखे में आके मैं movie देखने चला गया. सोचा खुद लुटे, आपको तो बचा लूँ. पैसे बचाने को थैंक यू मत बोलना, शेयर बटन दबा देना.

Fan Movie Review

Post navigation


One thought on “Fan Movie Review

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *