Entertainment Tax on listening Rahul Gandhi Funny Speech – Arun Jaitley

 

Rahul Gandhi Funny Speech
Rahul Gandhi speech in Loksabha

अरुण जेटली का कहना है की वो अब राहुल गाँधी के भाषण सुनने पर एंटरटेनमेंट टैक्स लगायेंगे. अरुण जेटली ने ये फैसला EPF पर टैक्स लगाने को लेकर हुए जबरदस्त विरोध के बाद लिया है. उनका कहना है कि सरकार EPF पर टैक्स के प्रस्ताव को वापस लेने का विचार कर रही है क्योंकि इस नए एंटरटेनमेंट टैक्स से उन्हें उम्मीद है की सरकार की आमदनी में ज्यादा वृद्धि होगी.

अरुण जेटली के अनुसार यूँ भी EPF टैक्स का असली प्रभाव सिर्फ 70 लाख लोगों पर पड़ रहा था और विरोध उससे ज्यादा हो रहा है. ऐसे में सरकार ऐसा कर लगाना चाहती है जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग कर के दायरे में आयें और उन्हें ये कर देने में किसी तरह की तकलीफ न हो. राहुल गाँधी के भाषण इतने लोकप्रिय है कि उनके भाषण के समय चैनल की TRP बढ़ जाती है और भाषण के टाइम से ही लोग ट्विटर पर जोक शेयर करने लगते हैं. सरकार का मानना है कि जिस देश के लोग धूम 3, किक और चेन्नई एक्सप्रेस जैसी फिल्मों को 300 करोड़ की कमाई करवा सकते है वो राहुल के भाषण के लिए सरकार को 3000 करोड़ तक की कमाई करवा देंगे.

देश में हर चीज का नाम गाँधी परिवार के नाम पर रखने की परंपरा को ध्यान में रखते हुए इस कर का नाम भी “राजीव गाँधी पुत्र हास्य कर” रखा जायेगा. जेटली का कहना है कि गूगल एडवर्ड के मुताबिक देश में हर महीने लगभग 1.5 लाख लोग Rahul Gandhi Funny Speech सर्च करते है जो अपने आप में ये बताने को काफी है कि देश में राहुल गाँधी के भाषण किस तरह से सुने जाते हैं. Youtube पर राहुल गाँधी फनी स्पीच के नाम से हजारों विडियो आ जाते है, और हर विडियो औसतन 5-6 लाख लोगों ने देखा होता है. इसके अलावा whatsapp पर होने वाले इन भाषणों के शेयर अलग हैं. कुल मिलकर राहुल देश में हर महीने कुछ करोड़ लोग राहुल गाँधी का भाषण सुन कर हंसती है.

Google keyword planner
Search volume of Rahul Gandhi funny speech

सरकार गूगल और टेलिकॉम कंपनियों को साथ मिला कर ऐसा सिस्टम लाएगी जिसमें राहुल गाँधी फनी स्पीच सर्च करते ही आपके डाटा पैक की रिचार्ज वैल्यू का 10% कट जायेगा. सरकार का मानना है कि राहुल गाँधी के काला धन पर हुए कल के संसद वाले भाषण पर टैक्स दोगुना लगने की सम्भावना हैं. अरुण जेटली ने कहा है कि ये टैक्स 1 अप्रैल 2016 (जोकि फूल डे भी है) से लागू होगा. तब तक आप नीचे दिए लिंक को क्लिक करके मुफ्त में ये भाषण सुन सकते हैं.

राजीव गाँधी पुत्र हास्य कर

Post navigation


4 thoughts on “राजीव गाँधी पुत्र हास्य कर

  1. देश में हर चीज का नाम गाँधी परिवार के नाम पर रखने की परंपरा को ध्यान में रखते हुए इस कर का नाम भी “राजीव गाँधी पुत्र हास्य कर” रखा जायेगा. जेटली का कहना है कि गूगल एडवर्ड के मुताबिक देश में हर महीने लगभग 1.5 लाख लोग Rahul Gandhi Funny Speech सर्च करते है जो अपने आप में ये बताने को काफी है कि देश में राहुल गाँधी के भाषण किस तरह से सुने जाते हैं. Youtube पर राहुल गाँधी फनी स्पीच के नाम से हजारों विडियो आ जाते है, और हर विडियो औसतन 5-6 लाख लोगों ने देखा होता है. इसके अलावा whatsapp पर होने वाले इन भाषणों के शेयर अलग हैं. कुल मिलकर राहुल देश में हर महीने कुछ करोड़ लोग राहुल गाँधी का भाषण सुन कर हंसती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *