हम तुम और शादी के पांच साल

 

.. और आज शादी के 5 साल पूरे हो गए| आप भी सोच रहे होंगे की लोग शादी की सिल्वर जुबली / गोल्डन जुबली पर उत्साहित होते है और मैं 5 साल में ही इतना शोर मचा रहा हूँ|

दरअसल मेरी जिंदगी में कॉलेज के दिनों से ही 5 साल का बड़ा महत्व् रहा है| अर्थशास्त्र का विद्यार्थी था, हर साल परीक्षा से पहले भारत की पंचवर्षीय योजनाओं और उनकी उपलब्धियों के बारे में पढता था| राजनीती में रूचि रही है और वहाँ भी 5 साल का महत्त्व तो आप जानते ही है| एम्.बी.ए. करके जब नौकरियों के लिए इंटरव्यू देने लगा तो लगभग हर इंटरव्यू में पूछा गया की आप अपने आप को पांच साल के बाद कहाँ देखते हैं? तो कुल मिलकर निष्कर्ष ये निकला की भैया जिंदगी में 5 साल का बड़ा ही महत्व है|

कुछ दिनों पहले मैंने इच्छा जाहिर की थी की 5 साल में तो सरकार बदलने / दुबारा चुनने का मौका मिलता है, मुझे भी ऐसा मौका मिलना चाहिए| पर मेरी इस मांग को उसी प्रकार से अनसुना कर दिया गया जिस तरह कांग्रेस पार्टी में गाँधी परिवार के अलावा किसी और के पार्टी अध्यक्ष बनने की इच्छा को कर दिया जाता है| मेरे भाई बहनों ने सुना भी तो उस तरह (मेरा दिल रखने को) से ही वोटिंग कर दी जैसे हमारी सरकार ने लोकपाल विधेयक बनाने के लिए संसद में करवाई| उन्होंने मेरी बीवी के पक्ष में वैसे ही वोट दे दिया जैसे हमारे सांसद अपने वेतन भत्ता बढ़वाने के लिए बिना किसी विचार विमर्श के बिल के पक्ष में वोटिंग करते हैं|

अब जब किसी ने नहीं सुनी तो मैंने सोचा की क्यों न खुद ही 5 साल का लेखा जोखा देखूं| जिस तरह बैंक आपको बिना मांगे प्री-एप्रूव्ड लोन देते है, उसी तरह मेरे घर वालों ने मेरी शादी मुझसे बात किये बिना ही पक्की कर दी| मुझे कहा की हमने लड़की की फोटो देखी और पसंद कर ली है, मैसूर में नौकरी करती है, तुम भी देखना चाहो तो देख लो और हाँ, ध्यान रहे की हमने लड़की वालों को हाँ कह दिया है (बिना लड़की देखे) और ऐसा ही कुछ मेरी बीवी के साथ भी हुआ|

अब हम दोनों की शादी हुई | कहते हैं मर्दों के दिल का रास्ता उनके पेट से होके जाता है| औरों का तो मुझे पता नहीं पर मेरे दिल का रास्ता तो पेट से ही जाता है और मेरी बीवी को खाना ठीक से बनाना ही नहीं आता था| मेरी बीवी भी शुरू शुरू में अक्सर जरूरत से ज्यादा खाना उसी तरह बना लेती थी जिस तरह अमेरिका जरूरत से ज्यादा डॉलर छाप लेता है| पर वो भी कहाँ हार मानने वाली थी, कुछ टिप्स अपनी माँ से, कुछ सासू माँ से और बचा खुचा गूगल बाबा की मदद लेकर खाना बनाने सीख ही गयी| अमेरिका के एक्स्ट्रा डॉलर ने दुनिया में मंदी फैला दी बीवी ने ज्यादा खिला खिला कर मुझे मोटा बना दिया|

हर मैथिल ब्राह्मण अपनी शादी में अपने ससुराल से मुफ्त माल मिलने की उसी तरह उम्मीद रखता है जिस तरह पाकिस्तान अमेरिका से अनुदान और मुफ्त हथियारों की उम्मीद रखता है| लेकिन मेरी उम्मीदें उसी तरह टूटी जैसी एक आम आदमी की सरकार का बजट पेश होने के बाद टूटती है| शादी के तुरंत बाद मेरी नौकरी जयपुर में लग गयी तो मैं बंगलोर छोड़ आया और बीवी भी नौकरी छोड़ जयपुर आ गयी और इस तरह हमने अपनी जिंदगी घाटे की अर्थव्यवस्था से शुरू की| लेकिन घरवालों और इश्वर के आशीर्वाद के बीवी का साथ रहा और शादी के 2 साल के अंदर हमने अपने लिए एक छोटी सी कार और जयपुर में एक छोटा घर भी खरीद लिया| जिस तरह हमारे देश की विकास की दर आम आदमी की मेहनत से धीरे धीरे बढती रही उसी तरह हम दोनों की जिंदगी में तरक्की आती रही| लेकिन असली तरक्की तो बाकि थी| शादी के ठीक 2 साल बाद शादी सालगिरह के दिन हमारी जिंदगी का सबसे खूबसूरत पल आया और हमारी जिंदगी 3 साल पहले आज ही के दिन हमारा बेटा आर्यादित्य आया|

जब से आर्यादित्य आया हमारी जिंदगी में तब से सब कुछ खूबसूरत हो गया है| हम दोनों का प्यार पिछले 3 सालों में जितनी तेजी से बढ़ा है उतनी तेजी से तो देश में न महंगाई बढ़ी और ना ही भ्रष्टाचार| हमारे प्रधानमंत्री भी अपनी सरकार चलने के लिए सहयोगी दलों पर इतने निर्भर नहीं हैं जितना की मैं अपनी बीवी पर निर्भर हो गया हो गया हूँ|

5 साल होने बाद यही इच्छा है की हमारा ये गठबंधन उसी तरह लंबे समय तक चलता जाये जिस तरह पश्चिम बंगाल में कम्युनिस्ट सरकार कई दशकों तक चलती रही| वो सरकार तो फिर भी 33 साल बाद चली गयी पर हमारा ये सम्बन्ध तब तक चलता रहेगा जब तक हमारे नेता देश से गरीबी और भ्रष्टाचार हटाने का नारा देते रहेंगे|

बीवी – ये सब पढ़ के तुम पूरी तरह निश्चिन्त न हो जाना| भले ही हम जनम जन्मांतर के लिए साथ हो गए है लेकिन अपनी आदत से मजबूर मैं 5 साल बाद फिर चुनाव की मांग करूँगा|

 

हम तुम और शादी के पांच साल

Post navigation


14 thoughts on “हम तुम और शादी के पांच साल

  1. awesome… ise kahte hai kuchh likhne ko nahi mile to kuchh bhi likh dalo aur
    ye kuchh apko kuchh bana jaroor dega….. isse to kuchh log impress jaroor ho gaye uss kuchh me ek mai bhi hoon…

  2. Very lucid and descriptive…Waise, I knew all dese instances, but reading it again was no less fun…God bless you all! Aarya ka chocolate due hai…

  3. naveen bahut hi pyara likha hai,isse pata lagta hai ki tum kitne caring ho ,pushpa aur aarya ke prati

  4. सबसे पहले तो सफलता पूर्वक पाच साल पूरे होने पर ” एक दूजे के लिए बने” वैवाहित दम्पति को हार्दिक बधाई | चुकी में स्वम इस उप्लब्दी से नवाज़ा जा चूका हु इस लिए इस मुकाम तक पहुचने वो भी मुस्ककारते हुये ( जो की सबसे बड़ी व्यथा और पतियों की कला है ) के लिये आप को अलग से बधाई (स्वान्ताना में लिख नहीं सकता).
    आप का लेख मेने और मेरी पत्नी ने साथ बेठ कर पढ़ा , सच कहू बस आन्नद आ गया| आप के अगले पाच साल पूरे होने का इंतजार आप से अधिक हम लोगो को रहेगा …….. एक बार फिर कुछ प्यार भरा अर्थपूर्ण पढने को जो मिलेगा |
    आप की लेखनी और फोटोग्राफी का में कितना बड़ा प्रसंसक हु शायद ये में शब्दों में व्यक्त नहीं कर सकता हो सके तो महसूस करना.|
    ईश्वर आप को खुश रखे|

  5. waooooooooooo, naveen it is awesome, you are getting mature in your writting skill. I love the way you are balancing between your married life and detailing of Indian politics, sorry but romance is missing till end 😉 , anways it is great fun to read this, hope to see more and more articals from you. wishing you again happy 5 years of togetherness !!!! 🙂

  6. badhai ho bhai..tumsey chand roj pahley meri bhi 6 anversery thee..biwi ne shaandaar gift diya..anversry ke din hi apna ghutna tudwa bathee..uss par doctor ko dikhaye kehney laga ki 1 month ka complet bed rest..bus puchoon na abhi to 10 hi din bitey hain..ghar mein biwi aur beti idhar daftar sambhaal kar mummy yaad aa gayee..dost akheley rehney ka yahi nuksaan hai..buzorgon ne saach kaha tha bada parivaar khushaal parivaar…

  7. ur married life story of 5 yrs is really gud..which shows success. No one is made for eachother. we hav to adjust ourselves with other..n his/her family to make our married life.. smooth. its all in our hands..

    U write well, with simplicity..

  8. Pingback: Anniversary Gift

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *